डीजे की धुन पर नाचते गाते निकले जयस कार्यकर्ता

0
371

अलीराजपुर लाइव के लिए बरझर से इरशाद खान की रिपोटॅ

गुरुवार रात्रि मे निकला जयस का जुलुस जय आदिवासी सांस्कृतिक एकता का राष्ट्रीय महासम्मेलन गुजरात के राजपिपलिया मे नन्दू राजा की नगरी में 13=14=15 जनवरी को आयोजित हो रहा है जिसको लेकर जयस के कार्यकर्ताओ ने ग्राम बरझर मे रात्री मे वाहन रेली निकाली डीजे की धुन पर जयस कार्यकर्ता नाचते गाते जुलूस के रूप में गाव से होते हुवे बस स्टेसन पहुचे जहा पर जयस कार्यकर्ताओ को सम्बोधित किया रतलाम से आए डाँक्टर करणसिह डामोर ने एक तीर एक कमान आदिवासी एक समान का नारा देकर कार्यकर्ताओ को सम्बोधित किया मेरे नो जवान साथियों ऐसे ही जागते रहो क्यो कि आदिवासी सोता नही है वो जागते हैं। देश का भविष्य है आदिवासी, आज हमारे देश में आदिवासीयो का अस्तित्व खत्म हो रहा है, हमारी संस्कृति खत्म होने वाली है,  संवेधानिक अधिकार खत्म होने वाले है।इसलिए हम आपको जगाने आये हैं। अपने भाषण में डामोर ने युवा कार्यकर्ताओ मे जोश भरदिया राज पिपलिया मे होने वाले जयस के राष्ट्रीय महासम्मेलन में आने का आग्रह किया बडी संख्या में जयस कार्यकर्ता मोजुद रहै।