अलीराजपुर Live के लिए फिरोज खान बबलू की EXCLUSIVE रिपोर्ट ।

“घटना दिनांक 10 Oct  को मुखबीर सूचना प्राप्त हुई कि, ग्राम चिखोड़ा में आरोपीगण ने अपने-अपने कपास के खेत में मादक पदार्थ गांजे के अवैध पौधे लगा कर व्यवसाय कर रहे हैं सूचना पर मुखबीर द्वारा बताये स्‍थान पर पहुचा एक व्यक्ति पुलिस को देख कर भागने लगा जिसे हमराह फोर्स व पंचानों की मदद से पकडा जिसका नाम पता पुछा तो उसने अपना नाम रूपसिह बताया बाद पंचान व हमराही फोर्स के समक्ष संदेही रूपसिह से उसके खेत के संबध मे पुछताछ की जिसने अपने घर से लगे हुए बाडे वाले खेत की पहचान की तथा खेत की तलाशी लेते कपास के खेत में मादक   पदार्थ गांजा के पौधे होना पाया गया जिसका पंचनामा तैयार किया गया।

बाद मे पंचान खालसिह व चाटीया के समक्ष संदेही रूपसिह व कलमसिह के खेत मे लगे पोधें की पहचान उनके आकार तनों के पत्तों को तोडकर, मसलकर तीक्ष्ण नशीली गंध आने पर मादक पदार्थ गाजा के पोधे होना पाये गये इस संबध में संदेही रूपसिहं से लायसेन्स या वैध पत्र के संबध मे पुछते रूपसिह के व्दारा ना होना बताया गया रूपसिह के खेत से 63 पौधे गाजे के तथा मोटला उर्फ कलम सिंह के खेत से 103 पोधे उखाडे गये तथा मोके से सादा मिटटी के सेंम्पल लिये गये जिसका पंचनामा तैयार किया गया।

बाद पंचान खालसिह व चाटीया के समक्ष इलेक्ट्रानिक तौल कांटे का सत्यापन पंचनाम तैयार किया गया ।बाद पंचान खालसिह व चाटीया आरोपी रुपसिंह पिता भाया भिलाला खेत से उखाड़े गये मादक पदार्थ गांजे के पौधे कुल नग 63 का तौल कराया गया 67 किलो 700 ग्राम तथा कलम सिंह उर्फ मोटला पिता नानला भिलाला के खेत से उखाड़े गये कुल 103 पौधे जिसका तौल करने पर 50 किलो 900 ग्राम कुल कीमत 3,54000 रुपये के अवैध गांजा के पौधे जप्‍त कर विवेचना में लिया गया।